टेक्नोलॉजी के फायदे और नुकसान Advantages and Disadvantages of Technology in Hindi

क्या आप जानते है टेक्नोलॉजी क्या है/Technology Kya Hai, अगर नही जानते कि- टेक्नोलॉजी के फायदे और नुकसान क्या है Advantages and disadvantages of technology in Hind?, लेख मे “Technology Ke Fayde or Nuksan kya hai” के बारे मे जानकारी दी गई है.

टेक्नोलॉजी के समय में पूरी दुनिया ऐशो आराम की जिंदगी जी रही है, 21वी शताब्दी मे टेक्नोलॉजी के बिना जीवन व्यतीत करना काफी मुश्किल है, प्रौद्योगिकी / टेक्नोलॉजी के फायदे और नुकसान Advantages Disadvantages of Technology in Hindi के बारे में जानकारी जानने से पहले आपको यह जान लेना जरूरी है कि टेक्नोलॉजी क्या है, टेक्नोलॉजी की परिभाषा क्या है, टेक्नोलॉजी का मतलब क्या होता है.

Contents

टेक्नोलॉजी क्या है?

ऐसे संसाधन जिनका इस्तेमाल कर जीवन के सभी कार्यों को सुविधाजनक या आसान बनाया जाता है इसे टेक्नोलॉजी कहते है या आप ऐसा भी कह सकते है कि मानव द्वारा बनाए गए ऐसे उपकरण जिनका इस्तेमाल करने से मनुष्य को जीवन व्यतीत करने में आसानी होती है ऐसे उपकरणों को ही टेक्नोलॉजी कहते है.

टेक्नोलॉजी का अर्थ/मतलब प्रौद्योगिकी होता है, अभी तक के आर्टिकल में आपने “What is Technology in Hindi” ये तो जान लिया अब ये भी जाने की टेक्नोलॉजी उपकरण क्या क्या होते है.

प्रौद्योगिकी/टेक्नोलॉजी उपकरण और सेवायें

प्रौद्योगिकी/टेक्नोलॉजी उपकरण और सेवायें Technology Equipment and Services जिन्हे हमारे दैनिक जीवन में समय समय पर या रोजाना इस्तेमाल किए जाते है जो कि निम्न है –

प्रौद्योगिकी/टेक्नलॉज उपकरण और सेवाये – बिजली, पंखा, हीटर, रूम हीटर, रोशनी बल्ब, AC, वाशिंग मशीन, प्रेस, हाथ की सिलाई मशीन, चमक धमक हेतु कॉलर बल्ब, पानी की इलेक्ट्रिक मोटर, जनरेटर, इन्वेटर, इलेक्ट्रिक उपकरण, इंटरनेट, कंप्यूटर, प्रिंटर, मोबाइल फोन, सोशल प्लेटफार्म (Youtube, Facebook) कैमरा, इंटरनेट, टेलीफोन, STD, एंड्रॉयड फोन, टेलीविजन, सिनेमा, साइकिल, मोटर साईकिल, कार, ट्रेन, हवाईजहाज, बुलेट ट्रेन, मेट्रो ट्रेन, स्मार्ट फोन, कीपैड मोबाइल, टेबलेट, रेफ्रीजरेटर, इन्डकशन चूल्हा, ओवन, मिक्सर ग्राइंडर, दवाईयां, स्वास्थ परिक्षण हेतु आधुनिक मशीन जैसे कि – MRI जांच मशीन, ब्लड प्रेशर जांच मशीन, ब्लड टेस्ट, X Rey आदि.

टेक्नोलॉजी के फायदे Advantages of Technology in Hindi

प्रौद्योगिकी/टेक्नोलॉजी से फायदे/लाभ अनेक है, टेक्नोलॉजी द्वारा निर्मित उपकरण इंटरनेट, शिक्षा, स्वास्थ्य, दूरसंचार, मनोरंजन, आवागमन, बिजली, हवाई यात्रा, जैसे छेत्रो में लाभकारी सिद्ध हुए है,टेक्नोलॉजी से फायदे को हम निम्नानुसार समझते है-

इंटरनेट जैसी तकनीक का विकास

जब से पूरे विश्व में टेक्नोलॉजी द्वारा संचालित इंटरनेट/INTERNET उपलब्ध हुआ है हमारा जीवन बहुत ही आसान हो गया है क्योंकि इंटरनेट के द्वारा ही आज कल पूरा टेक्नोलॉजी सिस्टम चलता है, इंटरनेट को हम मोबाइल, कंप्यूटर के द्वारा किसी भी शासकीय या प्राइवेट काम घर बैठे आसानी से कर लेते है, अगर इंटरनेट ना मिले तो पूरा काम रुख जाता है.

आने वाले समय में इंटरनेट की ओर स्पीड बड़ने वाली है क्योंकि जैसे जैसे टेक्नोलॉजी का विकास हो रहा है उसी तर्ज पर इंटरनेट स्पीड भी बढ़ती जा रही है, जब इंटरनेट शुरू हुआ था तब नेट स्पीड बहुत कम थी लेकिन अब 3G, 4G, और 5G तक पहुंच चुकी है जिससे हमारा समय और पेसो दोनो की बचत होती है.

ऑनलाइन तकनीकी शिक्षा

पहले के जमाने में पढ़ाई का एकमात्र साधन स्कूल था, स्कूल जाए बिना पढ़ाई संभव नहीं थी लेकिन टेक्नोलॉजी के समय में अब ऐसा नहीं है अब आपको घर बैठे ऑनलाइन पढ़ाई करने के लिए बहुत सारे साधन टेक्नोलॉजी ने उपलब्ध करवाए हैं जैसे कि यूट्यूब, फेसबुक और वेबसाइट आदि, विद्दार्थी घर पर रहकर ऑनलाइन सोशल मीडिया प्लेटफार्म Youtube Facebook और Website के जरिए पढ़ाई कर सकते है.

उक्त माध्यमों के जरिए ऑनलाइन घर बैठे मोबाइल, कंप्यूटर और टैबलेट के जरिए बिना कोई महीने की ट्यूशन फीस भरे फ्री में पढ़ाई कर सकते है।

रोशनी हेतु आधुनिक बल्ब

पहले के जमाने में टेक्नोलॉजी के द्वारा हमको उजाले/रोशनी हेतु बिजली और बल्ब उपलब्ध थे लेकिन उन बुल्बो का बिजली बिल बहुत आता था, लेकिन अब उसी टेक्नोलॉजी की बदौलत LED तकनीक वाले बल्ब बाजार में आ गये है जो बहुत कम बिजली लेकर अधिक रोशनी देते है, जिससे बिजली की बचत के साथ साथ बिल भी बहुत कम आता है, इस तरह देश के सभी गांव और शहरों में रहने वाले लोगो के बिजली के खर्च में बचत हुई है.

इसके अलावा आज आधुनिक टेक्नोलॉजी की बदौलत ही सौर ऊर्जा का इस्तेमाल हर गाँव और शहर के लोग कर रहे है, सौर ऊर्जा तकनीक काफी सस्ती और किफायती भी है.

घरेलू कार्य हेतु टेक्नोलॉजी उपकरण

प्रौद्योगिकी बदौलत है कि आज घर के काम करना आसान हो गया है, पहले एक समय था जब व्यक्ति को हर घरेलू काम हाथो से करने पड़ते थे जिससे काफी समय/दिन लग जाते थे लेकिन आधुनिक टेक्नोलॉजी के आज के समय में ऐसा नही है अब हर घरेलू काम के लिए कोई ना कोई उपकरण हमको बाजार में मिल जाता है जैसे कि कपड़े धुलने के लिए वाशिंग मशीन, सरफ, खाना पकाने के लिए गैस चूल्हा, ओवन, इंडेक्शन चूल्हा, कपड़ो पर प्रेस करने के लिए स्त्री (प्रेस).

उक्त सभी प्रकार के प्रौद्योगिकी/टेक्नोलॉजी उपकरण ने रसोई का काम सरल बना दिया है, अब गृहिणी वाशिंग मशीन से कपड़े धोती है, जिससे उसकी मेहनत और समय बचती है.

इलाज हेतु दवाइयां व स्वास्थ्य परीक्षण उपकरण

आज हर बीमारी की दवाइयां और स्वास्थ्य परीक्षण हेतु आधुनिक मशीन हॉस्पिटलों में उपलब्ध है, वर्तमान समय में टीवी, अस्थमा, प्रसवपूर्व और प्रसवबाद के होने वाले रोग, हेपेटाईटिस, शुगर, डेंगू, मलेरिया, खसरा, चिकनगुनिया, जापानी इन्सेफेलाइटिस, कैसर, यौन रोग, जैसे रोगों का इलाज है। स्वास्थ्य परीक्षण हेतु आधुनिक मशीन MRI, X Ray, शुगर, ब्लूड टेस्ट, सर्वाइकल स्पाइन जांच मशीन सरकारी और प्राइवेट हॉस्पिटलों में उपलब्ध है, इसके अलावा चिकित्साशास्त्र में रोज नये नये शोध और खोजे हो रही है,उक्त सभी बीमारियों का इलाज और जांच मशीन टेक्नोलॉजी की ही देन है. लेकिन पहले के जमाने में इन में से कुछ बीमारियों का इलाज नही था और ना ही स्वास्थ्य परीक्षण जांच उपकरण जिसके चलते पहले के समय में इन बीमारियों से काफी लोग मरे है, आज के समय में टेक्नोलॉजी उपकरण और दवाईयां उपलब्ध है इससे भारत में मृत्यु दर में भी गिरावट आई है.

सस्ते दामो में ईंधन की उपलब्धता

पहले के समय में महिलाएं मिट्टी के चूल्हे पर कंडो और लकड़ी जला कर खाना बनाती थी, उनके फेफड़ों में धुआं जमने से बीमारियों की शिकार हो जाती थी लेकिनअब ज्यादातर औरते गैस पर खाना पकाती है, अब उनकी आंखों, मुंह, नाक में धुआ नही जाता है, जिससे उनका स्वास्थय खराब नही होता है, नई टेक्नोलॉजी की मदद से गैस के नये भंडारों की खोज हुई है,

अब गोबर और कचरे से भी रसोई गैस बनाने की तकनीक बनाई जा रही है.सीएनजी गैस का इस्तेमाल कार, ऑटो, मेट्रो सिटी में में भी किया जाने लगा है इससे सबसे बड़ा फायदा वायु प्रदूषण में कमी हुई है.

ऑनलाइन घर बैठे टिकट बुकिंग

आज के समय में ज्यादातर लोग यात्रा करने से एक दिन पहले ही घर बैठे मोबाइल से ऑनलाइन टिकट बुक कर लेते है, इसके अलावा आधुनिक टेक्नोलॉजी के बदौलत ही घर बैठे बस टिकट, एयरोप्लेन टिकट, ट्रेन टिकट बुक कर लेते हैं, Play Store पर आपको ऐसे बहुत सारे App मिल जायेंगे जिनका इस्तेमाल कर आप घर बैठे ऑनलाइन सभी प्रकार के टिकट बुकिंग के साथ साथ ट्रेन, प्लेन, बस जैसे वाहनों की लोकेशन या स्टेटस का पता कर सकते है.

मनोरंजन के उपकरण

आज के समय में तकनीक द्वारा निर्मित मनोरंजन के साधनों की कोई कमी नही है, T.V/टेलीविजन हर किसी के घर होता है व्यक्ति दिन भर काम कर जब शाम को घर पहुंचता है तो अपना दिमाग थोड़ा फ्रेस करने के लिए परिवार के साथ बैठ कर टीवी देखता है, स्मार्ट फोन/Smart Phone में आज कल सोशल ऐप यूट्यूब, फेसबुक और वेबसाइट का इस्तेमाल कर लोग मनोरंजन करते है, कंप्यूटर/लैपटॉप में भी इंटरनेट का इस्तेमाल कर लोग अपनी पसंद के मुताबिक मनोरंजन करते है, इनमे लोग कोई संगीत सुनने का शोक रखता है वो संगीत सुनता है कोई गेम खेलने और स्पोर्ट्स देखने का शौकीन होता है वो गेम और स्पोर्ट्स देखते है.

वार्तालाप हेतु आधुनिक उपकरण

21 वी शताब्दी के आधुनिक युग के समय में व्यक्ति एक स्थान से दूसरे स्थान जिसकी दूरी चाहे हजारों किलोमीटर ही क्यों ना हो आसानी से बातचीत कर सकता है या अपनी बात पहुंचा सकता है बातों का आदान-प्रदान कर सकता है.

आज हर व्यक्ति के पास एक स्मार्टफोन होता है या फिर कोई ना कोई नार्मल कीपैड फोन जरूर होता है जिसके द्वारा जरूरत पड़ने पर हम एक दूसरे से बातचीत करते हैं, जैसे जैसे टेक्नोलॉजी का विकास हो रहा है उसी प्रकार से नए-नए एंड्राइड फोन/स्मार्टफोन भी अपडेट हो कर आ रहे हैं तकनीक की बदौलत है कि आज हम एक से बढ़कर एक स्मार्टफोन चला रहे हैं लाखों किलोमीटर की दूरी पर आपस में बातचीत करते हैं.

कृषि के छेत्र में टेक्नोलॉजी के फायदे

एक दृष्टि से अगर देखा जाए तो सबसे ज्यादा योगदान मिला है टेक्नोलॉजी का तो वह है कृषि, कृषि के क्षेत्र में टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर एक से बढ़कर एक उपकरण तैयार किए हैं जैसे कि ट्रैक्टर, ट्राली, थ्रेसर हार्वेस्टर, फसलों को निकालने काटने व बीज बोने की एक से बढ़कर एक मशीन आज के दौर में तकनीक के सहयोग से कृषि के कार्य हेतु उपलब्ध हो पाई है.पहले के जमाने में कृषि करना काफी मुश्किल होता था पहले के किसान कृषि करने के लिए लकड़ी के यंत्र बनाकर कृषि करते थे जिससे काफी मेहनत और समय लगता था लेकिन अब ऐसा नहीं है बढ़ती हुई टेक्नोलॉजी के दौर में अब कृषि करना काफी आसान हो गया है.

मुफ्त कॉलिंग और वीडियो कॉलिंग की सुविधा

आज के तकनीकी स्मार्टफोन कंप्यूटर लैपटॉप में ऐसी सुविधाएं दी गई है जिनका इस्तेमाल करके कोई भी व्यक्ति फ्री में कॉलिंग कर सकता है साथ ही फ्री में वीडियो कॉलिंग का भी आनंद ले सकता है, मुफ्त कॉलिंग और वीडियो कॉलिंग की सुविधा फ्री में प्रदान की जाती है इसका आपसे किसी प्रकार का कोई चार्ज नहीं लिया जाता है इसके लिए सिर्फ आपके मोबाइल में इंटरनेट पैक होना जरूरी है.

प्रौद्योगिकी/टेक्नोलॉजी के कुछ अन्य फायदे

तकनीक की बदौलत ही आज बड़ी-बड़ी फैक्ट्रियों में ऐसी बड़ी बड़ी मशीनें लगाई गई है जिनके द्वारा 10 दिनों के काम को 1 दिन में तैयार कर लिया जाता है जिससे समय के साथ-साथ पैसे की भी बचत होती है, सड़कों के निर्माण में पहले एक सड़क को बनाने के लिए 5 साल का समय लगता था लेकिन अब ऐसा नहीं है तकनीक उपकरणों द्वारा उसी सड़क को आज 3 महीने या 6 महीने में कंप्लीट कर लिया जाता है, टेक्नोलॉजी मशीनों द्वारा बड़े से बड़े पहाड़ों को तोड़कर बड़ी बड़ी जेसीबी मशीनें, क्रेन मशीन से रेलवे लाइन या रोड बना दी जाती है, टेक्नोलॉजी द्वारा बनाई गई कई सारे मिसाइलों को अंतरिक्ष में भेजा जा चुका है और आने वाले समय में अंतरिक्ष यान और द्वारा मनुष्य को भी परीक्षण हेतु अंतरिक्ष में भेजने की तैयारी है.

और पढ़े – साइबर अपराध क्या है, बचाव के उपाय और प्रकार क्या है?

बारकोड क्या है, इसका आविष्कार किसने किया था?

टेक्नोलॉजी के नुकसान/दुष्प्रभाव Technology Ke Nuksan in Hindi

आधुनिक टेक्नोलॉजी के दुष्परिणाम/ नुकसान (Disadvantages of Technology) के बारे में जान लेना भी आवश्यक है क्योंकि जिस प्रकार टेक्नोलॉजी से हमको बहुत सारे फायदे हो रहे हैं उसके विपरीत इससे कुछ घातक नुकसान भी हो रहे हैं, टेक्नोलॉजी से फायदा और नुकसान दोनों ही होते हैं लेकिन ज्यादातर लोगों को फायदे के बारे में ज्यादा जानकारी रहती है उनको नहीं पता होता कि टेक्नोलॉजी के क्या दुष्परिणाम होते हैं, प्रौद्योगिकी/टेक्नोलॉजी के नुकसान के बारे में नींद टॉपिक्स के माध्यम से समझते हैं –

सोशल मीडिया प्लेटफार्म का दुरुपयोग

नए नए कम उम्र के मनचले लौंडे/लड़के सोशल मीडिया ऐप्स Facebook, Instagram, Whatsaap और टेलीग्राम पर लड़कियों के साथ चैटिंग करना शुरू कर देते है धीरे धीरे ये लड़कियों के वीडियो, फोटो और चैटिंग msg अपने मोबाइल में सेव कर लेते है, बाद में फिर इस विडियो के द्वारा लड़कियों को ब्लैकमेल करके मनमानी करते है अगर लड़कियां इन मनचलो की बात नही मानती है तो उनका वीडियो को सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर वायरल करने की धमकी देने लगते है.

स्मार्ट फोन में खतरनाक जानलेवा गेम

आजकल स्मार्टफोन में कई तरह के इमोशनल गेम्स आते हैं जिनको युवा पीढ़ी खेलती है और गेम के दौरान ही इतने इमोशनल हो जाते हैं कि गेम में हारने के बाद आत्महत्या तक कर लेते हैं जैसे कि “ब्लू व्हेल” गेम इसका एक जीता जागता उदाहरण है इस गेम को खेल कर कई सारे बच्चों ने आत्महत्या कर ली थी।यही नहीं इसके अलावा और भी कई सारे हिंसा, मारधाड़, खून- खराबे वाले विडियो गेम्स है जिसमें बच्चे अपना समय बर्बाद करते हैं और गेम में इतने विलीन हो जाते हैं कि उनका पढ़ाई से ध्यान भटक जाता है और अपना कैरियर खराब कर लेते हैं.

मोबाइल फोन और कंप्यूटर पर अश्लील सामग्री

आज कल माता पिता बच्चो को ऑनलाइन पढ़ाई करने के लिए महंगा वाला स्मार्ट फोन या लैपटॉप दिलवाते है लेकिन कुछ बच्चे इसका दुरुपयोग करते है, पढ़ाई के नाम पर अश्लील वीडियो और मूवीस देखने की लत लग जाती है, जिसके फलस्वरूप आधुनिक टेक्नोलॉजी के गलत इस्तेमाल से नई पीढ़ी के बच्चे अच्छे संस्कारों से वंचित रह जाते है.

स्मार्ट फोन और कंप्यूटर द्वारा चोरी

आज के समय में ऑनलाइन धोका धडी के मामले काफी बड़े है, कुछ फ्रॉड लोग गरीब और कम पढ़े लिखे लोगो को संबंधित बैंक मैनेजर बनकर कॉल करते है लोग उनकी बातो में आकर OTP बता देते है जिसके कारण उनका अकाउंट से पेसो की चोरी कर ली जाती है.

हैकर्स हमारे मोबाइल फोन पर कुछ लुभावनी लिंक वाला MSG सेंड करते है आम लोग उस मैसेज पर क्लिक करते है और उनसे वहा पर कुछ पर्सनल जानकारी व बैंक डिटेल्स पूछी जाती है जैसे ही जानकारी फिल कर सबमिट करते है, हैकर्स हमारे बैंक अकाउंट से पूरा पैसा उड़ा देते है,कुछ चोर ऐसे भी होते है जो ATM कार्ड बदलकर, क्लोन बनाकर हमारे पैसे चुरा लेते है.

जानलेवा और गंभीर बीमारियों के शिकार

आजकल हर व्यक्ति मोबाइल फोन का इस्तेमाल जरूरत से अधिक करने लगा है, अधिक समय तक मोबाइल फोन या कंप्यूटर के इस्तेमाल से सर्वाइकल स्पाइन, दिमागीय बीमारी, ब्रेन ट्यूमर जैसी खरतनाक बीमारियों के शिकार हो रहे है जिसके कारण कुछ लोगो को अपनी जान तक गवाना पड़ी है, मानशिक बीमारियों का बढ़ना भी टेक्नोलॉजी की है देन है, लोग एक दूसरे से मिलने और बात करने से ज्यादा इंटरनेट की जैसी दुनिया में रहना पसंद करते है, जिसका कोई अस्तित्व नही है, इसी वजह से मानवीय सम्बंध खराब होते जा रहे है, स्मार्ट फोन या कंप्यूटर से रेडिएशन की तरंगे निकलती है जो सीधे हमारी आंखों और दिमाग पर बुरा असर डालती है.

अगर स्मार्ट फोन को अधिक इस्तेमाल के साथ साथ अधिक समय तक अपनी जेब में रखेंगे तो रेडिएशन से घातक बीमारियाँ हो रही है, कैंसर जैसे भयानक बिमारी फ़ैल रही है.

शिक्षा पर तकनीक का दुष्प्रभाव/नुकसान

बदलती टेक्नोलॉजी के साथ साथ जहा एक तरफ कुछ बच्चे ऑनलाइन स्मार्टफोन या कंप्यूटर से घर बैठे पढ़ाई करते है लेकिन इसके विपरीत तकनीकी उपकरण स्मार्टफोन या कंप्यूटर पर कुछ बच्चे दिन भर पढ़ाई के नाम पर सोशल मीडिया साइट्स पर इंटरटेनमेंट करते हैं सब दिन मोबाइल फोन में गेम्स, चैटिंग या वीडियो कॉल में लगे रहते है, बच्चे दिन भर स्मार्टफोन पर टाइम खराब कर देते है जिसके कारण पढ़ाई पर ध्यान नहीं दे पाते है, माता पिता की बातो को स्मार्ट फोन चलाने के चक्कर में ध्यान नही देते और धीरे धीरे अपनी आदत खराब कर लेते है.

और पढ़ें –

टेक्नोलॉजी के प्रकार

अगर आप आधुनिक युग में की टेक्नोलॉजी कितने प्रकार की होती है जानते है तो अच्छी बात है अगर नही जानते कि तकनीक के प्रकार क्या है तो अभी नीचे आपको टेक्नलोजी के प्रकार बताने जा रहे है –

  1. स्पेस टेक्नोलॉजी.
  2. इंटरनेट ऑफ थिंग्स.
  3. आर्किटेक्चर टेक्नोलॉजी.
  4. इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी.
  5. कृत्रिम बुद्धिमत्ता टेक्नोलॉजी.
  6. रोबोटिक्स टेक्नोलॉजी.
  7. बायोटेक्नोलॉजी.
  8. नेनो टेक्नोलॉजी.
  9. थ्री डी प्रिंटिंग टेक्नोलॉजी.

निष्कर्ष (Conclusion) –

टेक्नोलॉजी क्या है और इसके फायदे ओर नुकसान क्या है, के बारे में जानकारी बताई गई, हम सभी को टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल मानव जाति के अच्छे कार्य के लिए करना चाहिए, इसके अलावा लेख में टेक्नोलॉजी का अर्थ क्या होता है, टेक्नोलॉजी का मतलब क्या होता है, टेक्नोलॉजी के प्रकार के बारे में भी जानकारी दी गई है।

उम्मीद करता हूं कि आज का लेख टेक्नोलॉजी से फायदे एवं नुकसान क्या है पसंद आया होगी, में हमेशा पूरा प्रयास और काफी रिसर्च करके लेख के द्वारा सभी पाठको तक जानकारी पहुंचता हूं ताकि किसी भी यूजर्स को जो हमारी हिंदीनोट वेबसाइट पर जिस जानकारी के लिए आया है उसे वो जानकारी मिले और उससे संतुष्ट होकर जाए ताकि दूसरी वेबसाइट पर जाकर सर्च न करना पड़े।

Leave a Comment

x