कोरोना वायरस पर निबंध PDF । Essay on Corona Virus in Hindi

कोरोना वायरस पर निबंध PDF । Essay on Corona Virus in Hindi

नमस्कार दोस्तों, हमारी HindiNote वेबसाइट पर आपका स्वागत है। इस लेख मे कोरोना वायरस पर निबंध, Covid -19 (Essay on Corona Virus in Hindi) हिंदी भाषा में लिखा गया है। लेख में कोरोना वायरस क्या है, कोरोना वायरस की उत्पत्ति कैसे हुई, इस बीमारी लक्षण, कोरोना से बचाव के उपाय, कोरोना होने पर क्या करे, “कोरोना वायरस – एक वश्वैिक महामारी” के बारे में संपूर्ण जानकारी Corona Virus Par Nibandh in Hindi के द्वारा कोरोना की उत्पत्ति से लेकर अभी तक की पूरी जानकारी को हम एक एक करके विस्तार पूर्वक समझेंगे ताकि आपका भी नॉलेज बड़े ओर पढ़ने वाले बच्चों का एजुकेशन मे फायदा मिले । चलिए आपके कीमती समय को ज्यादा ना ग्वाकर “कोरोना पर निबंध” शुरू करते है।

कोरोना वायरस पर निबंध (1000 Words)

प्रस्तावना – विश्व स्वास्थ्य संगठन (W.H.O) द्वारा कोरोना वायरस को एक वैश्विक महामारी घोषित किया है। कोविड -19 यानि कोरोना वायरस बहुत ही प्रभावशाली है जिसके वायरस काफी सूक्ष्म है। यह वायरस मानव के बाल की तुलना में करीबन 900 गुना छोटा है। कोरोना वायरस का संक्रमण पूरे विश्व में काफी तेजी से फ़ैल रहा है।

कोरोना वायरस क्या है?

कोरोना वायरस {कोविड 19} का संबंध ऐसे वायरस के समूह से है जिस के संक्रमण से मानव को सांस लेने में तकलीफ जुकाम जैसी समस्याएं होने लगती है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार मानव को खांसी, सांस लेने में तकलीफ, बुखार कोरोना वायरस के मुख्य लक्षण बताए गए हैं।

कोरोना वायरस एक संक्रमित व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है। जिसके कारण गले में खराश, जुकाम, सांस लेने में तकलीफ, बुखार जैसी समस्याएं हो सकती है। इस संक्रमण से सावधानी रखना बहुत जरूरी है। जिस व्यक्ति की प्रतिरोधक क्षमता कम है उस व्यक्ति को यह संक्रमण होने पर मृत्यु का कारण भी बन सकती है। इसी कारण विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस को वैश्विक महामारी घोषित किया है। यह महामारी भारत, चीन, अमेरिका फ्रांस जैसे बड़े बड़े देशों के साथ साथ करीबन पूरे विश्व के 181 से भी ज्यादा देशों में फैल चुकी है। इस वायरस के इलाज की कोई सटीक दवाई अभी तक खोजी नही जा सकी है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने इस संक्रमण का कोरोना नाम कोविड -19 (Covid -19) रखा है, जिसके शब्दो में “CO” का मतलब कोरोना (CORONA), “VI” का मतलब वायरस (VIRUS), “D” का मतलब डिसिस (Disease), एवं “19” का मतलब साल 2019 जिस वर्ष यह बीमारी पैदा हुई थी। उक्त सभी शब्दो को मिलाकर इस संक्रमण का नाम कोविड 19 रखा गया है।

कोरोना वायरस की उत्पत्ति

कोरोना की उत्पत्ति सबसे सबसे पहले सन् 1930 में एक मुर्गी में हुई थी और इसने मुर्गी के स्वसन प्रणाली को प्रभावित किया था, इसके बाद सन् 1940 में कई अन्य जानवरों में भी यह वायरस पाया गया था। उसके बाद यह वायरस सन 1960 में एक मानव में पाया गया था जिसे सर्दी की शिकायत थी। इन सबके बाद यह वायरस विश्व स्वास्थ्य संगठन और चीन के वैज्ञानिकों के अनुसार चमगादड़ों के द्वारा मानव के शरीर में सन 2019 नवंबर के महीने में चीन के “वुहान शहर” में पहली बार पाया गया था।

कोरोना वायरस के मुख्य लक्षण

कोरोना वायरस के लक्षण फ्लू वायरस से मिलते जुलते हैं। अगर किसी व्यक्ति को सूखी खांसी के साथ साथ तेज बुखार आता है तो उसे तुरंत डॉक्टर को दिखाना चाहिए, क्योंकि कोरोना वायरस से पहले बुखार आता है उसके बाद सूखी खांसी चलती है और फिर करीबन एक हफ्ते बाद गले की नाली में सांस लेने में तकलीफ होने लगती है।

हालांकि इन लक्षणों का हमेशा यह मतलब नहीं होता है कि आपको कोरोना वायरस हुआ है। लेकिन जब किसी व्यक्ति को गंभीर कोरोना हो जाता है तो ऐसे मामलों में स्वसन प्रक्रिया में दिक्कत, किडनी फेल होना, निमोनिया यहां तक की कभी-कभी व्यक्ति की मौत भी हो सकती है। कोरोना वायरस का सबसे प्रमुख लक्षण सांस लेने में तकलीफ होना होता है।

कोरोना संक्रमण होने पर क्या करें

कोरोना का संक्रमण होने पर डॉक्टर द्वारा बताए गए ट्रीटमेंट लेना चाहिए। वर्तमान में कोरोना होने पर डॉक्टर या तो आपको किसी कोरोना सेंटर में कुछ दिन रहकर ट्रीटमेंट लेने की सलाह देते हैं या फिर आपको कुछ ट्रीटमेंट देकर होम कोरेंटाइन होने की सलाह देते हैं उक्त दोनों उपाय को आप डॉक्टर की सलाह अनुसार अपनाएं। अगर आप कोरोना वैक्सीन के सभी डोज लगवा चुके हैं तो अच्छी बात है अगर नहीं लगवाए हैं तो वह सभी डोज डॉक्टर की सलाह अनुसार जरूर ले, क्योंकि कोरोना की दवाइयों में कोरोना वैक्सीन एकमात्र इसका सबसे प्रमुख इलाज है इसलिए कोरोना वैक्सीन लगवाएं।

कोरोना संक्रमण से बचाव के उपाय

भारतीय स्वास्थ्य मंत्रालय एवं विश्व स्वास्थ्य संगठन यानी डब्ल्यूएचओ के अनुसार कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के कुछ दिशानिर्देश जारी किए गए हैं जिन को अमल में लाकर हम कोरोना के संक्रमण से बचाव कर सकते हैं। कोरोना संक्रमण से बचाव के उपाय निम्नानुसार है –

  • लोगों से हाथ ना मिलाएं।
  • अपने हाथों को बार-बार धोना चाहिए।
  • भीड़ भाड़ वाली जगह पर ना जाएं।
  • अगर जरूरत ना हो तो घर से बाहर ना निकले।
  • ऐसा आहार ग्रहण करें जिससे आपके प्रतिरोधक क्षमता बढ़े।
  • हाथों को मुंह पर बार-बार ना लगाएं।
  • जब भी दूसरे व्यक्तिगत संपर्क या बाहर घूमने निकले तो मार्क्स जरूर लगाएं।
  • जितना हो सके बस या रेलवे सफर से बचें।
  • करीबन 20 सेकंड तक साबुन से रगड़ रगड़ कर हाथ धोना चाहिए।
  • अल्कोहल रहित हैंड रब का इस्तेमाल करे।
  • खांसी और छींक आने पर अपने मुंह को रुमाल या टिशू पेपर से जरूर ढंके।
  • मांस और अंडे के सेवन से बचना चाहिए।

कोरोना संक्रमण फैलने से कैसे रोकें

  • कोरोना का संक्रमण फैलने से रोकने के लिए हमको हमारे घर पर बिना कारण भीड़भाड़ नहीं लगाना चाहिए।
  • एक से अधिक लोगों के साथ में रहना पड़ता है तो और भी ज्यादा सतर्कता रखना चाहिए।
  • बाहर से घर पहुंचते ही सबसे पहले अपने आप को थोड़ा सेनिटाइज करें, उसके बाद हाथों को साबुन से 20 सेकंड तक जरूर धोएं।
  • ऐसा करने से संक्रमण परिवार के दूसरे सदस्यों तक नहीं पहुंचेगा।
  • अपने मुंह और नाक को पूरी तरह से मार्क्स से ढके।
  • 2 गज की सामाजिक दूरी बनाए रखने का प्रयास करें।
  • घर से बाहर ऑफिस के कार्य किसी अन्य कार्य जाना पड़े तो सामाजिक दूरी बनाए रखें।
  • गलती से किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आ जाए तो खुद का कोरोना टेस्ट करवाएं तथा बाद में खुद को परिवार से कम से कम 14 दिन तक अलग रखें।
  • सरकार द्वारा जारी किए गए सभी कोरोना दिशा निर्देशों का पालन करें

Essay on Corona Virus in Hindi PDF

उपसंहार

कोरोना वायरस मतलब कोविड-19 आज भारत ही नहीं अपितु विश्व के लगभग सभी देशों में फैल चुका है, इस वायरस से अब तक करीबन एक करोड़ लोग संक्रमित हो चुके हैं, इस वायरस से पूरी दुनिया में डेढ़ लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। इस वायरस का असर बुजुर्गों की मृत्यु दर में सबसे ज्यादा है। इस वायरस से संक्रमित काफी लोग सही भी हो चुके हैं। अब इसको रोना महामारी की वैक्सीन लगभग ज्यादातर देशों ने बनाकर तैयार कर ली है और अपने देश के नागरिकों को इस वैक्सीन के टीके लगाए जा रहे हैं जिससे संक्रमण का खतरा पहले से काफी कम हो चुका है।

कोरोना एक वैश्विक महामारी की वजह से पूरी विश्व की अर्थव्यवस्था डाउन हुई है। Covid 19 माहामारी से पहले करीबन 100 वर्ष पूर्व 1910 में हैजा महामारी ने भी कोरोना जैसा भयावह रूप लिया था। उस समय हैजा महामारी के कारण पूरी दुनिया में अनुमानित सात से आठ लाख से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी। लेकिन वर्तमान समय में टेक्नोलॉजी और साइंस की विकास के बदौलत वैज्ञानिकों द्वारा कोरोना महामारी की वैक्सीन बना ली है। इसीलिए आप घबराएं नहीं, सतर्क रहें, स्वच्छ रहें, कोरोना को समाप्त करने के लिए सरकार और विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा जारी दिशा निर्देशों का पालन करें। इस प्रकार कोरोना को हम सब साथ मिलकर हरा सकते हैं।

FAQ,s

Q: कोरोना वायरस के लक्षण

Ans- कोरोना वायरस के मुख्य लक्षण निम्न है –
1. खांसी आना।
2. बुखार आना।
3. थकान होना।
4. सांस लेने में तकलीफ।
5. सीने में दर्द होना।
6. सिरदर्द होना।

आज आप ने क्या सीखा

दोस्तों, आशा है कि हमारी आधिकारिक वेबसाइट HindiNote – Tech in Hindi का लेख “Covid 19 पर निबंध यानी कोरोना वायरस पर निबंध हिंदी में (1000 Words)” जरूर पसंद आया होग। मेरा हमेशा यही प्रयास रहता है कि पाठकों को अच्छे से अच्छे लेख पूरी तरह रिसर्च करके जानकारी प्रदान की जाएं ताकि पाठकों को दूसरे Site या ineternet पर उस आर्टिकल के संदर्भ में खोजने की आवश्यकता नही पड़े और साइट पर आने वाले पाठकों के समय की भी बचत हो तथा एक ही आर्टिकल में पूरी जानकारी मिल जाएं।

अगर फिर भी आपके मन में कोई आर्टिकल को लेकर प्रश्न हो तो कृपया आर्टिकल के कमेंट बॉक्स में लिख सकते हैं आपकी हेल्प की जाएगी। यदि आपको मेरी वेबसाइट के इस article से कुछ सीखने को मिला तो कृपया आर्टिकल को सभी सोशल नेटवर्क जैसे Facebook, Whatsapp, Instagram, Teligram पर शेयर कीजिए, आपका दिन शुभ हो, धन्यवाद।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

x