विज्ञान के चमत्कार पर निबंध Essay on Science Miracle in Hindi

विज्ञान के चमत्कार पर निबंध Essay on Science Miracle in Hindi

आज के लेख में “विज्ञान के चमत्कार निबंध (Science miracle essay) हिंदी भाषा में लेख किया गया है। नमस्कार दोस्तों, Hindi Note वेबसाइट पर आपका स्वागत है।
विज्ञान के चमत्कार पर निबंध कक्षा 5,6,7,8,9,10 तक के स्टूडेंट की परीक्षा को ध्यान में रखकर तैयार किया गया है। ताकि एक ही निबंध के द्वारा क्लास 5 से 10 क्लास तक के स्टूडेंट को फायदा मिले। लेकिन इस निबंध में ध्यान में देने वाली यह बात है कि अगर आप कक्षा में है तो आप इसमें ज्यादा विस्तार मे ना जाकर आपकी परीक्षा में पूछे गए निबंध शब्दो के हिसाब से H2 हेडिंग मैसे खास खास बाते नोट करले।

बड़ी क्लास वाले अपने Class 8 से Class 10 तक कुछ करने की जरूरत नहीं है जैसा है वैसा लिखे, परीक्षा मे जितना अच्छा विवरण विस्तार से लिखोगे उतने अधिक नंबर मिलने के चांस बड़ जाते है।
हमारी हिंदी नोट वेबसाइट पर आपको कुछ ओर भी निबंध मिल जायेंगे जैसे – इसरो पर निबंध हिंदी में Essay on ISRO in Hindi?, नारी शिक्षा पर निबंध?, महावीर स्वामी पर निबंध?, होली पर निबंध हिंदी में? आदि।

Contents Hide

विज्ञान के चमत्कार पर निबंध Essay on science miracle in Hindi?

प्रस्तावना :- मनुष्य शुरुआत से ही कुछ न कुछ जानकारी प्राप्त करने की कोशिश में रहा है। अपनी इच्छा के कारण ही उसने विभिन्न प्रकार के ज्ञान को प्राप्त कर लिया है । सामान्य ज्ञान से विशेष ज्ञान की प्राप्ति को ही विज्ञान (science) कहते है। कहा जाता है आवश्यकता आविष्कार की जननी होती है। प्राचीन समय में मनुष्य की इच्छाएँ व आवश्यकताएँ बहुत कम थीं पर समय के साथ साथ उसकी इच्छाएँ व आवश्यकताएँ बढ़ने लगी तब इन आवश्यकताओं व इच्छाओं की पूर्ति के लिए मनुष्य विज्ञान की सहायता से नए नए आविष्कारों को करने लगा। इस दौरान उसे कभी सफलता मिली तो कभी असफलता मिली लेकिन मनुष्य ने अपने उत्साह व ज्ञान से अनेक चमत्कारी आविष्कारों को प्राप्त किया जिन्होंने मनुष्य की जीवन को अधिक सरल व आसान बना दिया है।

आज विज्ञान के द्वारा मनुष्य कृषि, उद्योग, अंतरिक्ष, यातायात हर क्षेत्र में काफी उन्नति व प्रग्रति कर चुका हैं और आने वाले समय में भी काफी उपलब्धियाँ हासिल करने वाला हैं। इसने असंभव को संभव कर दिखाया है। विज्ञान के द्वारा मनुष्य ने एक से बढ़कर एक चमत्कारी आविष्कार कर लिए जिनके बारे में किसी ने कभी सोचा ही नहीं होगा। मनुष्य द्वारा किए गए आविष्कार और उससे प्राप्त सुविधाएँ मानव जाति के लिए अधिक प्रभावशाली व उपयोगी सिद्ध हुए। आज विज्ञान की सहायता से मनुष्य का जीवन पहले से काफी अधिक आसान व सरल बन गया। और इसीलिए इस युग को विज्ञान का युग कहा जाता है जहां हर तरफ विज्ञान से प्राप्त साधन मौजूद है।

विज्ञान के चमत्कार Miracle of science

जैसा कि आप सब जानते है कि विज्ञान ने अभी तक बहुत सारे आविष्कार कर दिए है और यह आगे भी विकास के राह पर आगे बढ़ रहा है। विज्ञान की सहायता से मनुष्य ने ऐसे ऐसे आविष्कार कर दिए है, जो किसी चमत्कार से कम नहीं है। विज्ञान ने प्राचीनकाल के ऋषियों – महर्षियों और गुरुओं के मंत्रों और अस्त्रो के प्रयोग को आज विभिन्न प्रकार के आविष्कारों के द्वारा सत्य कर दिया है । रामायण काल के पुष्पक विमान , वर्षा, अग्नि , वायु आदि की शक्तियों को प्रकट करने वाले वाणों, समुद्र सोखकर जमीन निकालने , मंत्र से चलने वाले अद्भुत वाण-अस्त्र , महाभारतकालीन संजय को प्राप्त हुई दिव्य दृष्टि आदि को साक्षात् और सत्य करने के लिए विज्ञान ने हमें टेलीविजन, टेलीप्रिन्टर , मिसाइल , उपग्रह , परमाणु बम , मोबाईल फोन , कम्प्यूटर आदि उपलब्ध करवाए।

मनोरंजन के साधन जैसे टेलीविजन, मोबाइल, लैपटॉप आदि, कृषि के साधन सब विज्ञान की ही देन है। विज्ञान ने सबसे ज्यादा बिजली से चलने वाले उपकरणों का आविष्कार किया जिनके बिना तो आज कोई जीवित ही नहीं रह सकता। आज विज्ञान ने ऐसे ऐसे साधनों का निर्माण किया है, जिनके माध्यम से मनुष्य एक जगह से दूसरी जगह आसानी से पहुंच सकता है। किसने सोचा होगा की एक दिन मनुष्य आकाश में उड़ेगा लेकिन विज्ञान की देन एरोप्लेन, हेलीकॉप्टर की मदद से मनुष्य हवा में उड़ सकता है और लंबी दूरियां तय कर सकता हैं। सच में विज्ञान के यह सभी आविष्कार किसी चमत्कार से कम नहीं है। ये आविष्कार मनुष्य के लिए काफी उपयोगी सिद्ध हुए।

विभिन्न क्षेत्रों में विज्ञान के चमत्कार

विज्ञान ने हमारे जीवन के प्रत्येक क्षेत्र को तीव्रगति से प्रभावित किया है। यात्रा, अध्ययन, व्यापार, उद्योग, दर्शन, उत्पादन, मनोविनोद, ध्वनि, संदेश, संचार, मनोरंजन, कृषि आदि के क्षेत्र में विज्ञान ने विभिन्न प्रकार के साधन और आधार प्रस्तुत किए है जिसके फलस्वरुप आज हमारा जीवन आसान और आरामदायक बन गया है।

यातायात के क्षेत्र में विज्ञान के चमत्कार

यात्रा के क्षेत्र में विज्ञान ने मनुष्य को बहुत सारे साधन प्रदान किए है – बस, साइकिल, कार, स्कूटर, मोटर साइकिल, रेलगाड़ी, मोटरकार, हवाईजहाज, हेलीकॉप्टर आदि। इन साधनों के द्वारा मनुष्य को आज तनिक भी पैदल चलने की आवश्यकता नहीं पड़ती बल्कि वह थोड़े ही समय में लंबी दूरियां तय कर लेता है। आज मनुष्य को रावण के पुष्पक विमान की तरह मन की गति से चलने वाले बहुत सारे वायुयान प्राप्त हो चुके है जिससे वह आकाश में अधिक से अधिक ऊंचाई पर हवा के समान जिस दिशा में चाहे उस दिशा में उड़ सकता है धरती यात्रा के लिए विज्ञान ने हमें जो साधन दिए वो खुद में अदभुद और बेमिसाल है जैसे कार, स्कूटर, बस आदि।

इसके अलावा विज्ञान ने समुद्र की सैर के लिए भी अनेक साधन प्रदान किए है। आज विज्ञान ने मनुष्य के जीवन की दूरियों को कम कर दिया है। पहले जहां मनुष्य को एक स्थान से दूसरे स्थान तक पैदल जाना पड़ता था जिसमे उसे बहुत अधिक समय लगता था वहीं आज मनुष्य कई मीलों की दूरियों को कम समय में तय कर लेता है।

अंतरिक्ष के क्षेत्र में विज्ञान के चमत्कार

आज विज्ञान अंतरिक्ष की रहस्यमय बातों की जानकारी प्राप्त करने के बारे में लगातार सफल हो रहा है, अंतरिक्ष के क्षेत्र में लगातार प्रगति कर रहा है। इसने चांद , मंगल जैसे ग्रहों के बारे में पता लिया है। मौसम संबंधी विभिन्न प्रकार की जानकारी प्राप्त कर ली है। यह पृथ्वी जैसे जीवनयुक्त ग्रहों की खोज कर रहा है जहां आने वाली भावी पीढ़ी अपना जीवन व्यतीत कर सकती है। विज्ञान ने अंतरिक्ष के क्षेत्र में काफी उपलब्धियां हासिल की है जो काफी सराहनीय है।

अंतरिक्ष के क्षेत्र में विकास करने वाले देशों में भारत भी एक है। भारत ने अंतरिक्ष के क्षेत्र में काफी उपलब्धियां हासिल की है। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) के महत्वपूर्ण योगदान व प्रयास से भारत लगातार अंतरिक्ष के क्षेत्र में विकास कर रहा है।

चिकित्सा के क्षेत्र में विज्ञान के चमत्कार

चिकित्सा के क्षेत्र में सबसे महत्वपूर्ण भूमिका अदा करने वाला अगर कोई है तो वह है “विज्ञान”।चिकित्सा के क्षेत्र में विज्ञान ने एक महान क्रांति उत्पन्न कर दी है। कठिन से कठिन रोगों के इलाज के लिए एक से एक औषधियां आज हमें प्राप्त हो गई है। चिकित्सा के क्षेत्र में विज्ञान काफी विकास कर चुका है। विज्ञान की मदद से, इसके द्वारा प्रदान किए गए साधनों से आज जो सुन नहीं सकता वो आसानी से सुन सकता है, जो देख नही सकता वो देख सकता है। विज्ञान ने स्वस्थ जीवन को नई दिशा दी है।

मनोरंजन के क्षेत्र में विज्ञान के चमत्कार

विज्ञान ने हमारी बुद्धि, ज्ञान और सोच – समझ को बढ़ाने के लिए अनेक साधन प्रदान किए है। आज हमे अपने ज्ञान की वृद्धि के लिए किसी पुस्तकालय, ज्ञान – मंडल या अन्य स्थान पर जाने की जरूरत नहीं होती है। आज हम घर बैठे ही टेलीविजन, रेडियो, टेपरिकार्डर, वीडियो गेम, फोटो कैमरा आदि के द्वारा मनोरंजन प्राप्त करते हुए ज्ञान की वृद्धि भी कर रहे है। विज्ञान द्वारा दिए गए टीवी और मोबाइल फोन मनोरंजन के प्रमुख साधन है। इनके जरिए हम दुनिया भर के गाने, फिल्में, नाटक, खबरें आदि को देख सकते है , उनके बारे में जान सकते है। आज घर – घर में टीवी और मोबाइल फोन का उपयोग किया जाता है।

संचार के क्षेत्र में विज्ञान के चमत्कार

पहले लोग एक दूसरे से चिट्ठी व पत्र की सहायता से बातचीत करते थे। पत्र को एक जगह से दूसरी जगह तक पहुंचने के लिए लगभग 2 – 3 दिन या कभी – कभी महीने भी लग जाते थे। लेकिन आज विज्ञान के द्वारा दिए गए संचार साधनों की मदद से हम घर बैठे हुए ही दुनिया के दूसरे कोने में बैठे व्यक्ति से आसानी से बात कर सकते है। मोबाइल फोन, टेलीफोन, लैपटॉप, कंप्यूटर, इंटरनेट आदि संचार साधनों के उदाहरण है जिनके जरिए हम मिलों दूर बैठे व्यक्ति से बात कर सकते है। इन साधनों से एक व्यक्ति दूसरे व्यक्ति से जुड़ गया है।

व्यापार के क्षेत्र में विज्ञान के चमत्कार

विज्ञान ने अन्य क्षेत्रों के साथ साथ व्यापार के क्षेत्र में भी काफी उन्नति व प्रगति की है। इसने व्यापार के क्षेत्र में भी कई चमत्कारी आविष्कार किए है। विज्ञान की सहायता से बड़ी – बड़ी मशीनें छोटी मशीनों को बनाती है जो हमारे उद्योगों में काम आकार हमारे उत्पादन को बढ़ाती है। इन्ही उद्योगों के द्वारा हमे रोटी, कपड़ा, और मकान की प्राप्ति होती है जो हमारे जीवन की पहली आवश्यकता है।

शिक्षा के क्षेत्र में विज्ञान के चमत्कार

शिक्षा के क्षेत्र में विज्ञान ने अनेक अद्भुत कार्य किए है जो सभी के लिए लाभदायक सिद्ध हुए। आज प्रिंटिंग मीडिया की सहायता से हजारों पन्ने एक साथ छापे जा रहे है, जिससे किताबों के उत्पादन को गति मिली है। कंप्यूटर, लैपटॉप, टेलीविजन, रेडियो, मोबाइल, इंटरनेट ने शिक्षा को सरल बना दिया है। कंप्यूटर और इंटरनेट की मदद से घर – घर बैठे बैठे ही शिक्षा प्राप्त की जा सकती है। आज शिक्षा का प्रमुख अंग इंटरनेट पर किसी भी प्रश्न का उत्तर बड़ी सरलता से मिल जाता है।

तकनीक के क्षेत्र में विज्ञान के चमत्कार

विज्ञान में सबसे ज्यादा योगदान तकनीक के क्षेत्र में दिया है। आज भारत विज्ञान की सहायता से तकनीक के क्षेत्र में काफी तरक्की व उन्नति कर चुका है। तकनीक (techonoly) विज्ञान के दो प्राण तत्व में से एक है। टेक्नोलॉजी के द्वारा हम विभिन्न प्रकार के कार्यों को आसानी से संपन्न कर सकते है। आज हमें टेक्नोलॉजी के दो रूप प्राप्त हुए हैं एक परमाणु विज्ञान और दूसरा अंतरिक्ष विज्ञान। इन दोनों प्रकार के विज्ञानों से हम अपना विश्वस्तरीय महत्व सिद्ध करने में सफल बने हुए हैं अत: टेक्नोलॉजी का विशेष महत्व सिद्ध हो रहा है।

Related Posts –

इसरो पर निबंध Essay on ISRO in Hindi। इसरो पर निबंध हिंदी भाषा में

सॉफ्टवेयर क्या है सॉफ्टवेयर कितने प्रकार के होते हैं?

साइबर अपराध क्या है, साइबर अपराध से बचाव के उपाय और प्रकार क्या है?

महावीर स्वामी पर निबंध Essay on Mahavir Swami in Hindi

विज्ञान वरदान या अभिशाप

वरदान के रूप में (As a boon to science) –

विज्ञान शुरुआत से ही मनुष्य की प्रत्येक आवश्यकताओं व इच्छाओं को पूरा करने के लिए कठोर परिश्रम कर रहा है। इसने मानव को वो हर सुख – सुविधाएं उपलब्ध कराई जिसकी व्यक्ति कल्पना भी नहीं कर सकता था। विज्ञान ने मनुष्य को वरदान – स्वरुप सब कुछ प्रदान किया है। इसने हमारे जीवन के प्रत्येक क्षेत्र को तीव्र गति से प्रभावित किया है। यात्रा, अध्ययन, व्यापार, उद्योग, दर्शन, उत्पादन, मनोविनोद, ध्वनि, संदेश, संचार आदि के क्षेत्र में विज्ञान ने विभिन्न प्रकार के साधन और आधार प्रस्तुत किए जिसके फलस्वरूप आज हमारा जीवन बहुत आसान और सरल बन गया है। विज्ञान की देन यातायात के साधनों की मदद से हम एक जगह से दूसरी जगह आसानी से पहुंच सकते है। संचार साधनों का उपयोग कर मिलों दूर बैठे व्यक्ति से आसानी से संपर्क कर सकते है।

इंटरनेट की सहायता से हम किसी भी चीज की पूरी जानकारी अत्यंत सरलता से प्राप्त कर सकते है। टेलीविजन, कंप्यूटर, लैपटॉप जहां मनोरंजन के साधन है वही शिक्षा के भी सर्वश्रेष्ठ साधन है। आज विद्यार्थी खेल – खेल में कुछ नया सिख रहे है। विज्ञान ने हमें सुख – सुविधाएं और सुरक्षा दोनो उपलब्ध कराई है। सच में मनुष्य ने विज्ञान को वरदान के रूप में पाया है।

विज्ञान अभिशाप के रूप में (As a science curse) –

जहां विज्ञान मानव के लिए वरदान साबित हुआ है, वही ये मनुष्य के लिए किसी अभिशाप से कम नहीं है। इसने मानव को सभी सुख – सुविधाएं उपलब्ध करवाई है। विज्ञान मानव के लिए लाभदायक के साथ साथ हानिकारक भी सिद्ध हुआ है। विज्ञान ने मानव को सुख और आनंदित करने वाले आविष्कारों के साथ साथ ऐसे आविष्कार भी उपलब्ध करवाए है जो विनाश को बढ़ावा देते है। उदाहरण के लिए युद्ध संबंधी अस्त्र – शस्त्र। इन आविष्कारों से मानव के साथ साथ संपूर्ण सृष्टि को भी खतरा है।

पूरी दुनिया को हिला देने वाले परमाणु बंब ( hydrogen bomb) विज्ञान के इन्ही अस्त्र और शास्त्रों में से एक है। विज्ञान ने खतरनाक बॉम्ब के अलावा जहरीली गैस, बंदूक, मिसाइल आदि का आविष्कार किया है और इन्हीं खतरनाक आविष्कारों के कारण आज विज्ञान हमारे लिए एक अभिशाप बन गया है।

विज्ञान से लाभ और हानियां-

वैसे तो विज्ञान के अनगनित लाभ है। विज्ञान ने प्रत्येक क्षेत्र में मनुष्य को हर प्रकार की सुख सुविधाएं व सुरक्षा उपलब्ध करवाई है। चाहे वो यातायात, चिकित्सा, शिक्षा , मनोरंजन या संचार का क्षेत्र ही क्यों न हो। जैसे कि हम सब जानते हैं की विज्ञान ने हमारी जीवन को अत्यधिक सरल व आसान बना दिया है। विज्ञान के द्वारा प्रदान साधनों की मदद से आज हम जहां चाहे वहां आसानी से जा सकते हैं, मिलो दूर बैठे व्यक्ति से बात कर सकते हैं, इंटरनेट की सहायता से शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं।

एक और विज्ञान के अनगनित लाभ है तो दूसरी ओर इसकी अनगनित हानियां भी है। विज्ञान ने परमाणु बम जैसे बम, जहरीली गैसे, अनगनित बंदूके आदि का निर्माण कर मानव जाति को खतरे में डाल दिया है। आज एक देश दूसरे देश से इन्हीं खतरनाक अस्त्र शस्त्रों की मदद से युद्ध करते हैं और अपने आप को अधिक शक्तिशाली बताने की कोशिश करते है। इससे न सिर्फ मानव को बल्कि धरती पर स्थित सभी जीवों को नुकसान पहुंचता है।

उपसंहार (निष्कर्ष)

विज्ञान ने हमारे जीवन में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका अदा की है। इसने हमारी आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए ऐसे आविष्कार कर दिए हैं जो किसी चमत्कार से कम नहीं है। आज कोई भी व्यक्ति विज्ञान के द्वारा प्रदान इन साधनों के बिना नहीं रह सकता और ना ही ऐसे जीवन की कल्पना कर सकता है जहां विज्ञान मौजूद ना हो। लेकिन विज्ञान के साधनों का उपयोग हमें उचित प्रकार से करना चाहिए क्योंकि यही साधन अनुचित हाथ में लग कर मानव जाति के लिए खतरा बन जाते हैं।

FAQ,s

विज्ञान किसे कहते है?

मनुष्य शुरुआत से ही कुछ न कुछ जानकारी प्राप्त करने की कोशिश में रहा है। अपनी इच्छा के कारण ही उसने विभिन्न प्रकार के ज्ञान को प्राप्त कर लिया है । सामान्य ज्ञान से विशेष ज्ञान की प्राप्ति को ही विज्ञान (science) कहते है।

आज क्या सीखा-

मुझे आशा है कि हमारी Hindinote यह लेख “विज्ञान के चमत्कार पर निबंध हिंदी में, Essay on science miracle in hindi” जरूर पसंद आई होगी. में हमेशा यही कोशिश करता हूं कि पाठकों को अच्छे से अच्छे लेख पूरी तरह रिसर्च करके जानकारी प्रदान की जाएं ताकि पाठकों को दूसरे Site या ineternet में उस आर्टिकल के संदर्भ में खोजने की आवश्यकता नही हैं.

इससे साइट पर आने वाले पाठकों की समय की भी बचत होगी और एक ही आर्टिकल में पूरी जानकारी मिल जाएं. अगर फिर भी आपके मन में कोई आर्टिकल को लेकर कोई प्रश्न हो तो आप आर्टिकल के कमेंट बॉक्स में लिख सकते हैं आपकी हेल्प की जाएगी. यदि आपको मेरी वेबसाइट HindiNote Tech in Hindi के इस article से कुछ सीखने को मिला तो कृपया आर्टिकल को सभी सोशल नेटवर्क जैसे Facebook, Whatsapp, Instagram, Teligram पर शेयर कीजिए, धन्यवाद ।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x