मीराबाई चानू का जीवन परिचय Mirabai Chanu Biography in Hindi?

लेख मे मीराबाई चानू जीवन परिचय – Mirabai Chanu Biography in Hindi बताने जा रहा हूं, TOKYO Olympic 2021 में भारत की रजत पदक विजेता मीरा बाई चानू के जन्म से लेकर अभी तक के जीवन की के बारे में जानेंगे.
टोक्यो ओलंपिक 2021 रजत पदक विजेता महिला मीराबाई चानू के बारे में आज पूरा भारत देश जानने के लिए इच्छुक है कि मीराबाई चानू का जन्म कब हुआ, मीराबाई चानू का संबंध किस खेल से है, साइखोम मीराबाई चानू का जन्म कब हुआ उनकी वर्तमान में उम्र कितनी है, मीराबाई चानू कहां की रहने वाली है, साइखोम मीराबाई चानू का धर्म, जाति, पेशा, वर्ग, शारीरिक बनावट, लंबाई, वजन, रंग, आंखों का प्रकार कुल मेडल, गोल्ड मेडल, सिल्वर मेडल, कोच कौन है इत्यादि के बारे में हम विस्तार से बताने वाले हैं.

मीराबाई चानू जीवन परिचय

नाम साइखोम
मीराबाई चानू
जन्म दिनांक08/08/1994
उम्र24 साल
निवासी नोंगपोक काकचिंग
मणिपुर राज्य
माताऊँगबी तोम्बी लीमा
पिताकृति मैतेई
नागरीकताभारतीय
जातीwait somedays
धर्महिन्दू
वर्ग wait somedays
पेशाखिलाड़ी
शारीरिक बनावटसामान्य
वजन48kg
लम्बाई4 फिट 11 इंच
रंगगोरा
आँखेकाला
गोल्ड पदक02
सिल्वर पदक01
प्रशिक्षककुंजरानी देवी
शिक्षाग्रेजुएट
कार्यक्षेत्रमहीला भारोत्तोलक
अवार्डपदमश्री, खेलरत्न (2018)

मीराबाई चानू का प्रारंभिक जीवन

साइखोम मीराबाई चानू का जन्म 8 अगस्त 1994 को मणिपुर राज्य के इंफाल से 20 किलोमीटर की दूरी पर नोंगपोक काकचिंग गांव में हुआ था, इनको बचपन से ही Sports में बहुत दिलचस्पी थी. इनका परिवार काफी बड़ा है, मीराबाई के परिवार में छह भाई-बहनों में से यह सबसे छोटी है.
बात करें उनके बचपन कि तो उनका परिवार आर्थिक रूप से सक्षम नहीं था, मीराबाई जानू की उम्र करीब 12 वर्ष थी तभी से वह अपने भाई सेखोम संतोंबा के साथ पहाड़ियों पर लकड़ी बीनना जाना पड़ता था, उन्होंने बचपन से ही अपने जीवन में काफी कठिनाई और परेशानियों का सामना किया है.

2021 ओलंपिक में रजत पदक विजेता प्रथम भारतीय महिला

मीराबाई चानू एक भारतीय वेटलिफ्टिंग खिलाड़ी है, मीराबाई ने टोक्यो ओलंपिक 2021 में भारत के लिए गोल्ड मेडल दिलवा कर भारत को बहुत ही गौरवान्वित किया है, कॉमन वेल्थ गेम्स 2021 में इंडिया के लिए वेटलिफ्टिंग में 48 किलोग्राम में पहला स्थान हासिल किया है.

मीराबाई चानू को सम्मान

मणिपुर की रहने वाली है इसीलिए मीराबाई जानू के अच्छे प्रदर्शन को देखते हुए मणिपुर राज्य सरकार द्वारा इन्हें फिलहाल ही 20 लाख रु की राशि प्रदान की गई है. मीराबाई चानू द्वारा ओलंपिक 2021 में रजत पदक जीतकर भारत के लिए एक नया इतिहास रचा है इसी को देखते हुए मणिपुर राज्य सरकार द्वारा उन्हें एडिशनल एसपी का पद दिया गया है.

वेटलिफ्टिंग में उपलब्धियां

मीराबाई चानू ने जब से एक वेटलिफ्टिंग खिलाड़ी के तौर पर भारत के लिए अनेक देश विदेश की खेल प्रतियोगिता में हिस्सा लिया और काफी बार अनेक प्रकार के मेडल जीत कर भारत देश का नाम रोशन किया है, चानू द्वारा वर्ष 2014 से अभी तक की उपलब्धियों निम्नानुसार है –

  • 2014 राष्ट्रमंडल खेल मे 48kg की श्रेणी मे रजत पदक जीता.
  • गोल्ड कोस्ट मे हुए विश्वकीर्तिमान के साथ स्वर्ण पदक विजेता रही.
  • 2017 मे सयुक्तराज्य अमेरिका (अनाहम) मे आयोजित हुई विश्व भारोत्तोलन चैम्पियनशिप स्वर्ण पदक जीत कर इतिहास रचा.
  • टोक्यो ओलंपिक 2021 में 49kg वेटलिफ्टिंग में रजत पदक जीतकर भारत की प्रथम महिला विजेता बनी.
  • राष्ट्रमंडल खेलों में खुद के 186kg रिकॉर्ड को तोड़ते हुए 202kg का खुद का नया रिकॉर्ड बनाया.

यह भी पढ़ें – भारत रत्न विजेता लिस्ट PDF Download – भारत रत्न के बारे में संपूर्ण जानकारी जानिए?

भारत में प्रथम महिलाओं की सूची List of First Ladies in India। भारत में प्रथम महिला PDF

नारी शिक्षा पर निबंध Essay on Women Education in Hindi (1000 Words)

KL Rahul Biography in Hindi

FAQ,s

मीराबाई चानू किस राज्य की है?

मणिपुर राज्य

मीराबाई चानू कहां की रहने वाली है?

नोंगपोक काकचिंग गांव की

मीराबाई चानू किस खेल से संबंधित है?

महीला भारोत्तोलक

मीराबाई चानू के कोच

कुंजरानी देवी

मीराबाई चानू के पिता का नाम क्या है?

कृति मैतेई

मीराबाई चानू की माता का नाम क्या है?

ऊँगबी तोम्बी लीमा

मीराबाई चानू किस खेल से संबंधित है

भारोत्तोलन

Mirabai Chanu kahan ki hai

मणिपुर, भारत

मीराबाई चानू कौन है?

वेटलिफ्टिंग खिलाड़ी

निष्कर्ष –

में आशा करता हूं कि आज का लेख साइखोम मीराबाई चानू का जीवन परिचय – Mirabai Chanu Biography in Hindi? जरूर पसंद आया होगा.
दोस्तो में हमेशा पूरा प्रयास और काफी रिसर्च करके लेख के द्वारा सभी पाठको तक जानकारी पहुंचता हूं.
मेरा हमेशा यही प्रयास रहता है कि कोई भी पाठक मेरी हिंडीनोट की पोस्ट को पढ़े और संतुष्ट होकर जाए ताकि पाठको को दूसरे वेबसाइट या कोई भी सोशल मीडिया साइट्स पर जाना नही पड़े, एक ही लेख में पूरी जानकारी मिल जाए.
आज के लेख से संबंधित आपके मन में कोई प्रश्न हो तो आप आर्टिकल के कमेंट बॉक्स में अपना प्रश्न भेजे आपकी पूरी मदद की जाएगी.
आपके दोस्त या परिचित भी ऐसी जानकारी जानने के इच्छुक हो तो कृपया आर्टिकल को सोशल मीडिया प्लेटफार्म जैसे फेसबुक, टेलीग्राम, व्हाट्सएप आदि.

Leave a Comment