एल्यूमीनियम का बिजनेस कैसे शुरू करे?- इसके खिड़की दरवाजे बनाकर लाखों कमाए।

एल्यूमीनियम का बिजनेस कैसे शुरू करे?। Aluminium Business idea in Hindi

आज के लेख में एल्यूमीनियम का बिजनेस कैसे शुरू करे?- इसके खिड़की दरवाजे बनाकर लाखों कमाए (How to start aluminum business? – Earn millions by making its window doors.) के बारे में नई बिज़नेस आइडियाज की जानकारी दी गई है।

Aluminium Door Window Making Business in Hindi 2022: अगर आप भी एल्यूमीनियम के खिड़की, दरवाजे बनाकर लाखों रुपए का एल्यूमीनियम बिज़नेस प्लान के बारे में सोंच रहे है तो आज आप इस पोस्ट के द्वारा Aluminium Business Ideas के बारे में जान पाएंगे। एल्यूमीनियम के खिड़की और दरवाजे आज हर कोई अपने निजी और सरकारी बिल्डिंग में लगाना चाहते हैं। आज के समय में एलुमिनियम की डिमांड बहुत ज्यादा है, क्योंकि एलुमिनियम से खिड़की दरवाजे के अलावा अलग-अलग प्रकार के फ्रेम, किचन के बर्तन, सीढ़ी, हैंडरिल, बरामदा के लिए रेलिंग जैसे आइटम की जरूरत पड़ती है। इसके अलावा एलुमिनियम का उपयोग घर में छोटे-छोटे वस्तुओं के रूप में भी किया जाता है जिनमें बहुत सारे आजकल बर्तन भी एलुमिनियम के आ रहे हैं जिससे लिमोनियम की मांग काफी बढ़ रही है।

एल्युमिनियम का बिजनेस प्लान या एलुमिनियम का बिजनेस कैसे शुरू करें, एल्युमिनियम का बिजनेस क्या है, एलुमिनियम खिड़की दरवाजे का बिजनेस शुरू करने के लिए क्या करना पड़ता है, एलुमिनियम के दरवाजे और खिड़की बनाने के लिए कौन सी मशीन की जरूरत पड़ती है, या एलुमिनियम बिजनेस मशीन कितने की आती है, एलुमिनियम बिजनेस के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करवाते हैं, एलुमिनियम बिजनेस के लिए जरूरी दस्तावेज, एलुमिनियम खिड़की दरवाजे के बिजनेस हेतु कितनी लागत लगती है, एल्युमिनियम के बिजनेस से कितना फायदा या मुनाफा होता है, एलुमिनियम का भाव क्या है। चलिए, एलुमिनियम के बिजनेस की शुरुआत से लेकर एलुमिनियम से खिड़की और दरवाजे बनाकर कैसे मुनाफा कमाया जाए, पूरी जानकारी आपको नीचे विस्तारपूर्वक दी जा रही है।

Contents Hide

एल्यूमीनियम बिजनेस क्या है?

जिस बिजनेस या धंधे में एलुमिनियम का इस्तेमाल कर सभी प्रकार की वस्तुओं जैसे एलुमिनियम की खिड़की, दरवाजे बनाकर मार्केट में बेंच कर मुनाफा कमाते है, जिसे एल्यूमीनियम बिजनेस कहते है। या आप ऐसा भी कह सकते हो कि बाजार के अंदर एक दुकान खोलकर उसके अंदर एलुमिनियम का इस्तेमाल कर खिड़किया, चेयर, रेलिंग, बर्तन, सीढ़ी, दरवाजे अन्य बहुत सारे सामान बनाकर लोगों को बेंचकर फायदा कमाते है, इसे ही Aluminium Business कहते है।

एल्यूमीनियम का बिजनेस कैसे शुरू करें?

एल्युमिनियम खिड़की व दरवाजे बिज़नेस प्लान (Aluminium Door Window Making Business Plan) की शूरुआत करने के लिए नियम जानना अति आवश्यक है। एलुमिनियम विंडो एवं दरवाजे बनाने के लिए नियम के अंतर्गत आपको किन-किन चीजें बनवाना पड़ेगी या एलुमिनियम खिड़की दरवाजे बिजनेस के लिए बिजनेस शुरुआत करने से पहले क्या क्या करना पड़ेगा उसके बारे में जान लीजिए।

एल्यूमीनियम डोर विंडो मेकिंग बिजनेस हेतु नियम

आज के समय में कोई भी बिजनेस करने के लिए हमको पहले सरकार से परमिशन लेना पड़ता है। इस परमिशन के दौरान हमको कौन-कौन से प्रक्रियाओं से गुजरना पड़ता है। आज आपको सरकार के नियमानुसार एलुमिनियम बिजनेस प्लान शुरू करने के लिए क्या-क्या दस्तावेज बनवाने पड़ेंगे उनके बारे में जान लीजिए, ताकि आपके मन में किसी भी प्रकार का कोई कंफ्यूजन ना हो जिससे आपका बिजनेस में कोई दिक्कत आए या कोई कानूनी रुकावट आए। चलिए जानते हैं एलुमिनियम विंडो के दरवाजे बनवाने के लिए नियम कौन-कौन से हैं और इस नियम के अंतर्गत आपको कौन-कौन से प्रमाण पत्र बनवाने की आवश्यकता पड़ेगी और आप इन सभी प्रमाण पत्र को कैसे बनवा सकते हैं –

  1. एल्युमिनियम बिजनेस लाइसेंस – एलुमिनियम के खिड़की दरवाजे बनाकर मार्केट में बेचने के लिए सबसे पहले आपको एक बिजनेस लाइसेंस की आवश्यकता पड़ेगी। एलुमिनियम बिजनेस लाइसेंस के लिए आप जिस जिले और राज्य के अंतर्गत आते हैं, उस जिले के वाणिज्य मंत्रालय में आवेदन करना होता है, तभी आपको बिजनेस लाइसेंस मिल पाता है। अगर मान लीजिए आप जिस जिले में एलुमिनियम का बिजनेस करना चाहते हैं यह कभी-कभी ऐसा भी होता है कि कोई छोटा जिला होता है तो वहां पर कुछ दस्तावेज नहीं बन पाते हैं तो उस जिले की राजधानी के हेड ऑफिस में आप संपर्क कर बिजनेस लाइसेंस बनवा सकते हैं।
  2. एस एस आई यूनिट पंजीकरण – इस दस्तावेज की आवश्यकता आपको बिजनेस को चलाने में कोई समस्या ना आए, इसलिए आपको एक एस.एस.आई यूनिट पंजीकरण नाम का दस्तावेज भी बनवाना पड़ेगा, जिसके लिए आपको ऊपर दी गई सेम प्रक्रिया अपनानी पड़ेगी।
  3. आर.ओ.सी (R.O.C) – आर ओ सी दस्तावेज की आवश्यकता वहां पड़ती है, जब आप किसी कंपनी से पहले कच्चा माल लेते हैं। जिस कंपनी से आप कच्चा माल लोगे उस कंपनी के साथ आपको रजिस्टर होना पड़ता है इसलिए आपको r.o.c. की जरूरत पड़ेगी।
  4. वेट पंजीकरण – वेट पंजीकरण का मतलब यह होता है कि आप अपने बिजनेस के लिए जो भी सामान खरीदते हैं, उसकी सूची आपको राज्य सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर पंजीकृत करवाना पड़ता है, जो आज कलऑनलाइन हो जाता है।
  5. बी.आई.एस (BSI) गुणवत्ता मानक – 1948 -1961 I.S के अंतर्गत एलुमिनियम द्वारा बनी हुई वस्तुओं का मानक तैयारी करता है कि वह किसी तरह से निर्मित है वह एलुमिनियम में कौन-कौन से मिश्र धातु का मिश्रण है।

एल्यूमीनियम खिड़की या दरवाजे बनाने हेतु जरूरी चीजे

Aluminium Business Requirement :- एलुमिनियम के द्वारा खिड़की और दरवाजे या फिर अन्य प्रकार की वस्तुएं बनाकर मार्केट में सेल करने से पहले आपको किन-किन चीजों की आवश्यकता होगी। इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आपको बहुत सारी चीजों की जरूरत पड़ती है लेकिन यह आपके बिजनेस के आकार के ऊपर निर्भर रहता है कि आप बिजनेस कितना बड़ा करना चाहते हैं। अगर मान लीजिए आप शुरुआत में एक से दो लाख के बीच में एलुमिनियम का बिजनेस करना चाहते हैं तो आप का खर्चा कम आएगा, अगर आप 5,00000 से 10,00000 के बीच में शुरुआती एलुमिनियम बिजनेस करना चाहते हैं तो आप का खर्चा ज्यादा आएगा।

एल्यूमिनिम डोर-विंडो मेकिंग बिजनेस ( Aluminium Door Window Making Business Plan) के लिए जरूरी चीजें निम्नानुसार है –

  • लाइसेंस या रजिस्ट्रेशन
  • लागत (investment)
  • जमीन (Land)
  • दुकान या बिल्डिंग (Shop)
  • मशीन (Machine)
  • बिजली और पानी (Electricity & Water)
  • कर्मचारी (Worker)
  • कच्चा माल (Raw Materials)
  • वाहन (Vehicle)

रजिस्ट्रेशन (लाइसेंस) हेतु जरूरी दस्तावेज

  • आधार कार्ड+वोटर आईडी– आपका वोटर आईडी कार्ड और आधार कार्ड
  • जमीन के दस्तावेज़-जमीन की रजिस्ट्री मय नामांतरण के, किराए से दुकान लेते हैं तो किरायानामा होना चाहिए।
  • GST प्रमाणपत्र – एलुमिनियम के धंधे के लिए एक जीएसटी पंजीकरण भी होना चाहिए।
  • लोन के दस्तावेज– अगर आपने खुद के पैसों से बिजनेस शुरू किया है तो कोई बात नहीं अगर आप किसी बैंक से लोन लेकर बिजनेस शुरू कर रहे हैं तो आपको उस बैंक कल उनका विवरण के दस्तावेज होना चाहिए।
  • पर्यावरण व प्रदूषण बोर्ड से सहमति पत्र– आप जिस जिले में रहते हैं वहां का स्थानीय पर्यावरण व प्रदूषण बोर्ड से सहमति पत्र होना जरूरी है।
  • सुरक्षा संबंधी प्रमाण पत्र
  • फायर एक्सटिंग्विशर नाम का नगर निगम के माध्यम से बनाया गया प्रमाण पत्र।

एलुमिनियम बिजनेस में इन्वेस्टमेंट या लागत

Aluminium Business Investment: एलुमिनियम डोर विंडो मेकिंग बिजनेस के लिए इन्वेस्टमेंट आप अपने बजट के मुताबिक भी कर सकते हैं। हालांकि वर्तमान समय में जिस प्रकार आजकल सभी मकानों में दुकानों में या सरकारी बिल्डिंगों में एलुमिनियम के खिड़की और दरवाजे का इस्तेमाल किया जा रहा है जिससे काफी मांग बढ़ रही है जिसको देखते हुए अगर आप जितना अधिक इन्वेस्ट कर सकते हैं जितना अधिक मात्रा में इन्वेस्टमेंट करेंगे मुनाफा भी उतना ही अधिक होगा। इसलिए आपको अपने बजट के मुताबिक ही इन्वेस्टमेंट करना चाहिए। अगर आपका बजट अच्छा है तो शुरुआत में आप 5 से 10 लाख तक का इन्वेस्ट कर सकते हैं जो कि शुरुआती के दौर के हिसाब से काफी अच्छा है।

8 लाख से 10 लाख के बीच में आपका बिजनेस का पूरा सेटअप हो जाएगा जिसमें आप की जमीन दुकान और मशीन का भी बैलेंस बन जाएगा।

एल्यूमीनियम बिजनेस के लिए जमीन/बिल्डिंग

एलुमिनियम डोर विंडो मेकिंग के बिजनेस के लिए जमीन की बात करें तो अगर आपकी खुद की जमीन या बिल्डिंग है तो, आपको इस बिजनेस में बहुत ही कम खर्च आने वाला है, इसमें आपको सिर्फ रॉ मैटेरियल और मशीन का खर्चा लगेगा। लेकिन इस जमीन के अंदर प्लांट बनाना पड़ता है उसके बाद गोडाउन बनाना पड़ता है और कुछ जमीन पार्किंग के लिए भी होना चाहिए।
1000 स्क्वायर फीट से 3000 स्क्वायर फीट के बीच में एलुमिनियम बिजनेस हेतु जमीन होना चाहिए।

एल्युमीनियम डोर विंडो बिजनेस हेतु जरूरी मशीनरी

  • एक कट मशीन एवं इसके साथ 2hp मोटर और स्टार्टर की जरूरत होती है।
  • 0.75 एचपी मोटर डबल समाप्त बेंच की चक्की 200 मिमी व्यास का।
  • दरवाजे और खिड़कियों को डिजाइन करने के लिए एक पोर्टेबल इलेक्ट्रिक ड्रिल की भी जरूरत पड़ती है।
  • एनोडाइजिंग प्लांट रेक्टिफायर 500 एमपीएस।
  • 2hp वाला एक बकरे मशीन का मोटर।
  • हाथ वाले हथियार जैसे चीनी हथोड़ा कटिंग मशीन आदि।
  • 14 फीट लंबाई शुरुआती रसायनों के लिए आवश्यक टेन के साथ पूरा सामग्री।
  • 0.5HP का ड्रिलिंग मशीन 12 मिमी टोपी वाली, यह दरवाजे बनाते वक्त लकड़ियों की ड्रिलिंग के लिए जरुरी है।

एल्युमीनियम दरवाजे और खिड़की बिजनेस हेतु कच्चा माल

एलुमिनियम डोर विंडो बनाने का बिजनेस शुरू करने के लिए कच्चा माल का होना बहुत जरूरी है। एलुमिनियम से दरवाजे और खिड़की का बिजनेस करने के लिए सबसे पहले हमको रो मटेरियल यानी कच्चे माल की जरूरत पड़ती है। कच्चा माल कुछ विशिष्ट फेब्रिकेशन उत्पादों के उत्पादन पर निर्भर होता है, लेकिन हमने आपके लिए कुछ सामान्य प्रकार के कच्चे माल की सूची बनाई है जो निम्नानुसार है-

  • क्लिप, फ्लैट 50 मिमी x 1.5 मिमी
  • ग्लास शीट, बोर्ड 3 मिमी / 4.5 मिमी
  • एनोडाइजिंग के लिए रसायन
  • 63मिमीX 38मिमी
  • 25मिमी वर्ग पाइप, 25मिमी x 25मिमी अनुभाग
  • बुक टाइप हैंडल 100मिमी आकार
  • खिड़की और दरवाजे के लिए हैंडल अनुभाग, अनुवाद 112 मिमी x 50 मिमी अनुवाद

प्रदूषण विभाग से एनओसी सर्टिफिकेट

जब भी हम कोई बिजनेस करते हैं और उस बिजनेस के दौरान दुआ पानी यह कोई भी अन्य प्रकार का प्रदूषण फैलने का डर रहता है। कुछ लोग बिजनेस के दौरान लापरवाही करते हैं जिसके चलते या तो जल प्रदूषण होने का खतरा बन जाता है या फिर वायु प्रदूषण का खतरा बन जाता है। एनी को देखते हुए राज्य सरकार के द्वारा आपको एलुमिनियम का बिजनेस करने की अनुमति लेनी होती है जिसको एनओसी कहते हैं यह आपको राज्य सरकार के पर्यावरण और प्रदूषण विभाग से लेना पड़ेगा।

एल्यूमीनियम बिजनेस बाजार कैसे करें?

एलुमिनियम बिजनेस के लिए बाजार कैसे करें: यह सवाल आपके मन में जरूर आ रहा होगा अगर आप भी एल्यूमिनियम से खिड़की और दरवाजा बनाकर बिजनेस करना चाहते हैं तो। लेकिन आपको बता दें कि भारत जैसे देश में जिस प्रकार से जनसंख्या बढ़ रही है और एल्यूमीनियम की मांग भी काफी बढ़ रही है हर जगह एलुमिनियम की आवश्यकता। दरवाजे खिड़कियां में एलुमिनियम की खपत के साथ-साथ और भी बहुत सारे इलेक्ट्रॉनिक फील्ड एवं रेलवे विभाग में भी एलुमिनियम की मांग है। इसलिए आपको सिर्फ एलुमिनियम का बिजनेस स्टार्ट करना है, उसकी मार्टिक मार्केटिंग के बारे में ज्यादा नहीं सोचना है। आप जो भी उत्पाद करोगे वह आसानी से बाजार में बिक जाएगा।

एल्यूमीनियम बिजनेस प्रोमोशन

इंटरनेट और टेक्नोलॉजी के समय में एलुमिनियम बिजनेस का प्रमोशन करना बहुत ही आसान है, फेसबुक टि्वटर इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का सहारा लेकर आप बहुत ही आसानी से एलुमिनियम बिजनेस का प्रमोशन कर सकते हो। आपको पहले अपने प्रोडक्ट की अच्छा पोस्ट बैनर तैयार कर इन सभी सोशल मीडिया ग्रुप हो मैं शेयर करना है ताकि अधिक से अधिक लोगों तक जो प्रोडक्ट आसानी से पहुंच सके।

एल्यूमीनियम रेट टुडे – एलुमिनियम का भाव

वर्तमान में एलुमिनियम का अनुमानित भाव ₹240 किलो है। एलुमिनियम का भाव समय के हिसाब से कम या ज्यादा होता रहता है। एलुमिनियम का भाव जानने के लिए आप रोजाना गूगल का भी सहारा ले सकते हैं। गूगल पर आपको टाइप करना है एलुमिनियम रेट टुडे Aluminium Rates Today, यह सर्च करते ही आपकी मोबाइल स्क्रीन पर एलुमिनियम का भाव आ जाएगा। अगर आप आसानी से कभी भी एलुमिनियम का भाव देख सकते हैं जिससे आपको एलुमिनियम के वर्तमान भाव का पता लग जाएगा।

एलुमिनियम बिजनेस के लिए रो मटेरियल कहां से लाते हैं?

एलुमिनियम बिजनेस के लिए कच्चा माल के लिए आपको आपके पास में जो भी बड़ी कंपनी है जो एलुमिनियम के कच्चे माल की सप्लाई करती है उससे आपको संपर्क करना है। कच्चे माल देने वाली कंपनी जितनी अधिक पास में होगी उससे आपको कच्चा माल समय पर भी मिलेगा और भाव में भी कम पड़ जाएगा। इसलिए आप हमेशा ध्यान रखें कि एलुमिनियम बिजनेस के लिए कच्चा माल हमेशा अपनी नजदीकी एलुमिनियम कच्चा माल देने वाली कंपनी से ही ले।

एलुमिनियम के बिजनेस से कितना फायदा होता है?

एलुमिनियम के बिजनेस में एलुमिनियम से खिड़की और दरवाजे बनाकर आप तकरीबन 30 से 40 परसेंट तब का मुनाफा कमा सकते हैं। आपको सिर्फ अच्छे से काम करना आना चाहिए, अच्छे से डील करना आना चाहिए, आपको इस क्षेत्र का अनुभव होना चाहिए, आप आसानी से 30 से 40 परसेंट एलुमिनियम बिजनेस है कमाई कर सकते हो।

FAQ,s

Q- Aluminium Business Ideas in Hindi?

Ans- एल्यूमिनिम डोर-विंडो मेकिंग बिजनेस ( Aluminium Door Window Making Business Plan) के लिए जरूरी चीजें निम्नानुसार है – लाइसेंस या रजिस्ट्रेशनलागत (investment), जमीन (Land)दुकान या बिल्डिंग (Shop), मशीन (Machine), बिजली और पानी (Electricity & Water), कर्मचारी (Worker), कच्चा माल (Raw Materials), वाहन (Vehicle) ।

Q- एलुमिनियम बिजनेस से कितना मुनाफा होता है?

Ans- एलुमिनियम से खिड़की और दरवाजे बनाकर आप तकरीबन 30 से 40 परसेंट तब का मुनाफा कमा सकते हैं।

Q- एलुमिनियम बिजनेस में कितनी लागत लगती है?

Ans- 8 लाख से 10 लाख के बीच में आपका बिजनेस का पूरा सेटअप हो जाएगा जिसमें आप की जमीन दुकान और मशीन का भी बैलेंस बन जाएगा।

Related Post-

निष्कर्ष –

इस लेख एल्युमिनियम का बिजनेस कैसे शुरू करें? Aluminium Door Window Making Business in Hindi से आपको जरूर ही बहुत कुछ सीखने को मिला होगा, अगर आप भी एलुमिनियम बिजनेस का प्लान बना रहे हैं, भविष्य में आप भी चाहते हैं कि मैं भी एलुमिनियम के खिड़की और दरवाजे का बिजनेस करके लाखों रुपए का मुनाफा कमाऊ, तो यह लेख जरूर आपको बहुत फायदा देने वाला है।

Aluminium Door Window Making Business Plan in Hindi लेख से संबंधित आपका कोई भी प्रश्न हो तो आप इस लेख एल्युमिनियम का बिजनेस क्या है कैसे शुरू करें? के नीचे कमेंट बॉक्स में अपना प्रश्न जरूर भेजें आपकी मदद की जाएगी।

Aluminium Business Ideas in Hindi लेख को अधिक से अधिक अपने सभी मित्रों परिवारजनों और रिश्तेदारों को सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे Twitter, Facebook, Sandesh App, WhatsApp पर शेयर जरूर करें।

3 thoughts on “एल्यूमीनियम का बिजनेस कैसे शुरू करे?- इसके खिड़की दरवाजे बनाकर लाखों कमाए।”

  1. हमें इसकी ट्रेनिंग लेकर बिजनेस स्टार्ट करना हो तो कहा से करें

    1. इसकी ट्रेनिंग के लिए आपको आपके नजदीकी शहर जहां पर कोई भी एल्यूमीनियम का बिजनेस करके खिड़की दरवाजे बनाने का काम करता हो उससे एलुमिनियम की खिड़की दरवाजे बनाने की जानकारी यानी ट्रेनिंग ले सकते हो बाकी इसका ऐसा कोई स्पेशल ट्रेनिंग सेंटर नहीं होता है। या फिर उसकी दुकान पर 1 सप्ताह या 1 महीना रहकर ट्रेनिंग ले सकते हो।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

x