पेट्रोल स्कूटर और इलेक्ट्रिक स्कूटर में अंतर क्या है। इलेक्ट्रिक वाहनों के फायदे और नुकसान

इलेक्ट्रिक स्कूटर और पेट्रोल स्कूटर में अंतर क्या है?

आज के लेख में इलेक्ट्रिक स्कूटर और पेट्रोल स्कूटर में अंतर क्या है (What is the difference between electric scooter and petrol scooter) की पूरी जानकारी हिंदी भाषा में दी गई है।

Technology की दुनिया में आवागमन के लिए हर व्यक्ति को किसी ना किसी प्रकार के वाहन की जरूरत पड़ती है चाहे वह टू व्हीलर हो या फिर फोर व्हीलर हो, इसी टेक्नोलॉजी की बदौलत ही आज हमारे भारत देश में इलेक्ट्रिक स्कूटर का विकास हुआ है, आज हर कोई इलेक्ट्रिक स्कूटर के बारे में जानने के लिए गूगल पर कुछ ना कुछ इलेक्ट्रिक स्कूटर से संबंधित क्यूरीज सर्च करता रहता है जैसे कि- पेट्रोल स्कूटर बनाम इलेक्ट्रिक स्कूटर कौन सा बेहतर है, बैटरी/चार्जिंग वाली स्कूटी की कीमत कितनी है, सबसे अच्छा इलेक्ट्रिक स्कूटर कौन सा है, इलेक्ट्रिक स्कूटर बैटरी प्राइस, इलेक्ट्रिक स्कूटी और पेट्रोल स्कूटी के फायदे और नुकसान क्या है। इसके अलावा आज हर व्यक्ति वाहनों का उपयोग करता है चाहे वो टू व्हीलर हो या फोर व्हीलर ओर इन्ही वाहनों की दो अलग अलग कैटेगरी में बांटा गया है। एक ही कंपनी की दो Scooter एक Petrol से चलती है और एक Electric से चलती है।

पेट्रोल ही एकमात्र ईंधन था जो स्कूटरों को संचालित करता था लेकिन अब इलेक्ट्रिक स्कूटर भी बाजार में उपलब्ध हैं। बाजार में बहुत भ्रम है कि पेट्रोल स्कूटर और इलेक्ट्रिक स्कूटर के बीच, “कौन सा बेहतर है?”। टू-व्हीलर टेक्नोलॉजी ने एक लंबा सफर तय किया है। हमारे पास चुनने के लिए कई विकल्प हैं, जिनमें हाल ही में पेश किए गए इलेक्ट्रिक वेरिएंट भी शामिल हैं। हालांकि यह सहमति है कि गैर-कार्बन-आधारित ईंधन भविष्य का मार्ग है, प्रौद्योगिकी अभी तक पूर्ण मापनीयता तक नहीं पहुंच पाई है।

बहुत सारे घरेलू वाहन निर्माता हैं जो इलेक्ट्रिक स्कूटर सेगमेंट पर बैंकिंग कर रहे हैं और सरकार द्वारा उन्हें अपनी परियोजनाओं को तेजी से ट्रैक करने के लिए प्रोत्साहित भी किया गया है। पेट्रोल स्कूटर बनाम इलेक्ट्रिक स्कूटर- कौन सा बेहतर है– जानना अति आवश्यक है क्योंकि इससे आपको अपने खर्चे के मुताबिक स्कूटर खरीदने में आसानी हो जायेगी, ई – स्कूटी और पेट्रोल स्कूटी में अंतर जानने से पहले हम थोड़ा ये जानते है कि इलेक्ट्रिक स्कूटर (ई-स्कूटर) क्या है? पेट्रोल स्कूटर क्या है? के बारे में जानते हैं।

इलेक्ट्रिक स्कूटर क्या है?

इंजन को चलाने के लिए ईंधन की जरूरत पड़ती है और जिस स्कूटर के इंजन में चलने के लिए ईंधन के रूप में Electric (बिजली) का उपयोग होता है उस स्कूटर को इलेक्ट्रिक स्कूटर कहते है।

इलेक्ट्रिक स्कूटर और पेट्रोल स्कूटर में अंतर

Petrol Scooter Vs Electric Scooter – Which is Better, इलेक्ट्रिक स्कूटर और पेट्रोल स्कूटर में अंतर के बीच अंतर जानेंगे –

  • कीमत– इलेक्ट्रिक स्कूटर और पेट्रोल स्कूटर अगर हम खरीदने जाते हैं तो यह लगभग 70 हजार के आसपास का इसका मूल्य है जो कि लगभग समान है, इलेक्ट्रिक स्कूटर की कीमत और पेट्रोल स्कूटर की कीमत लगभग समान ही है।
  • स्पीड– इलेक्ट्रिक स्कूटर और पेट्रोल स्कूटर की स्पीड की बात करें तो इलेक्ट्रिक स्कूटर की स्पीड पेट्रोल स्पीड की तुलना में थोड़ी कम होती है।
  • पॉवर – पावर के मामले में पेट्रोल स्कूटर मजबूत है जबकि इसके विपरीत इलेक्ट्रिक स्कूटर पावर के मामले में थोड़ा कमजोर माना जाता है क्योंकि बाहरी व्यक्ति अगर इसको बैठकर चलाएगा तो काफी जल्दी लोड लेने लग जाता है।
  • ईंधन– इलेक्ट्रिक स्कूटर 10-20 पैसे प्रति किमी पर चल सकता है जबकि पेट्रोल करीबन 2.0 रुपये / किमी पर चलता है। तो ई स्कूटर चलाने के लिए 12-20 गुना सस्ता है। जिस प्रकार पेट्रोल की कीमत बड़े हैं उसको देखते हुए वर्तमान स्थिति में ईंधन के हिसाब से सबसे सस्ता इलेक्ट्रिक स्कूटर ही पड़ता है।
  • रखरखाव लागत– मेंटेनेंस के मामले में भी इलेक्ट्रिक स्कूटर पेट्रोल स्कूटर से काफी सस्ता पड़ता है, क्योंकि इसमें किसी भी प्रकार का कोई फ़िल्टर वगैरह नहीं रहता है सारी चीजों का बेनिफिट मिलता है जिससे बार-बार किसी प्रकार की सर्विसिंग का काम नहीं रहता और इसके विपरीत पेट्रोल इंजन में आपको हर एक से 2 महीने बाद सर्विसिंग करवाना पड़ता है इन सभी चीजों को देखते हुए हम कह सकते हैं कि पेट्रोल इंजन रखरखाव के मामले में काफी महंगा है और इलेक्ट्रिक स्कूटर सस्ता पड़ता है।
  • Range (दूरी)– इलेक्ट्रिक स्कूटर को एक बार चार्ज करने पर करीबन 50-60 किलोमीटर से 100 किलोमीटर के करीब चला सकते हैं जबकि इसके विपरीत पेट्रोल स्कूटर मैं इसकी कोई लिमिट नहीं है जहां पर भी पेट्रोल खत्म होता है किसी भी नजदीकी पेट्रोल पंप से पेट्रोल डलवा कर आप आगे का सफर जारी रख सकते हो जबकि इलेक्ट्रिक स्कूटर द्वारा ज्यादा दूरी तय करने में कठिनाई होती है, इसलिए हम यह कह सकते हैं कि रेंज दूरी के हिसाब से इलेक्ट्रिक स्कूटर सही नहीं है, यानी लंबे का सफर के हिसाब से इलेक्ट्रिक स्कूटर सही नहीं है।
  • प्रदूषण– इलेक्ट्रिक स्कूटर द्वारा किसी भी प्रकार का कोई प्रदूषण नहीं फैलता जबकि पेट्रोल स्कूटर से काफी दुआ निकलता है जिससे वातावरण प्रदूषित होता है इसलिए प्रदूषण के हिसाब से इलेक्ट्रिक स्कूटर बेस्ट है।
  • मॉडल्स – पेट्रोल स्कूटर को आप खरीदने जाते हैं तो आपको अलग-अलग कीमतों में अलग-अलग मॉडल्स में आपको कई प्रकार के पेट्रोल स्कूटर मार्केट में मिल जाएंगे लेकिन इसके विपरीत इलेक्ट्रिक स्कूटर भारत में अभी-अभी लॉन्च हुआ है इसलिए इसमें आपको ज्यादा वैरायटी देखने को नहीं मिलेगी और ज्यादा रेट में भी अंतर नहीं मिलेगा।

इलेक्ट्रिक वाहन के फायदे और नुकसान

इलेक्ट्रिक स्कूटर के कुछ फायदे हैं तो कुछ इसके नुकसान भी हैं इलेक्ट्रिक स्कूटर के फायदे और नुकसान को हम निम्न स्टैप्रों के माध्यम से समझते हैं – (A)- इलेक्ट्रिक स्कूटर के फायदे। (B)- इलेक्ट्रिक स्कूटर के नुकसान

इलेक्ट्रिक वाहन के फायदे-

  • जिस प्रकार देश में पेट्रोल और डीजल वाहनों के कारण वातावरण प्रदूषित हो रहा है ऐसे में प्रदूषण को रोकने के लिए इलेक्ट्रिक स्कूटर फायदेमंद है।
  • वर्तमान समय में पेट्रोल और डीजल के दाम काफी बढ़ रहे हैं इसकी तुलना में इलेक्ट्रिक स्कूटर को एक बार चार्ज करने पर काफी अच्छी सर्विस देता है कहने का मतलब यह इलेक्ट्रिक स्कूटर है काफी सस्ता पड़ता है पेट्रोल स्कूटर की तुलना में।
  • मेंटेनेंस के हिसाब से इलेक्ट्रिक स्कूटर काफी सस्ता पड़ता है और काफी फायदेमंद भी है।

इलेक्ट्रिक वाहन से नुकसान-

  • इलेक्ट्रिक स्कूटर को चार्ज करने के लिए वर्तमान समय में कोई ऐसी पेट्रोल पंप जैसी व्यवस्थाएं नहीं है जिससे यह एक लिमिटेड दूरी तक ही जा सकते हैं।
  • लंबे सफर के हिसाब से भी इलेक्ट्रिक स्कूटर काफी नुकसानदायक है क्योंकि इसको एक बार चार्ज करने पर 60 से 100 किलोमीटर की रेंज में ही चल पाता है।
  • इलेक्ट्रिक स्कूटर का एक बड़ा नुकसान यह भी है कि इसको चार्ज करने में 3 से 4 घंटे का समय लगता है जबकि पेट्रोल पंप में ऐसा नहीं है पेट्रोल स्कूटर में पेट्रोल डलवाने में सिर्फ 2 मिनट का समय लगता है।
  • इलेक्ट्रिक वाहनों का सबसे बड़ा नुकसान उनकी रीसेल वैल्यू का काफी कम होना है, इतना ही नहीं इन में लगी मोटर की लाइफ भी करीब 7 से 8 साल ही होती है इसके अलावा ओवर चार्ज होने पर इसकी बैटरी लाइफ कम होती है।

सबसे सस्ता इलेक्ट्रिक स्कूटर कौन सा है?

डुकाटी के Market में अपने सबसे सस्ते इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर स्कूटर Pro-I Evo लॉन्च किया है। Pro-I Evo इलेक्ट्रिक स्कूटर का डिजाइन Xiaomi M365 से मिलता जुलता है। डुकाटी के इस इलेक्ट्रिक स्कूटर में 350 वाट का मोटर और 280 Wh की क्षमता का बैटरी पैक दिया गया है।

Related Post-

डीजल इंजन और पेट्रोल इंजन में अंतर क्या है?

टेक्नोलॉजी के फायदे और नुकसान Advantages and Disadvantages of Technology in Hindi

Top Search Engine in The World विश्व के शीर्ष खोज इंजन की सूची?

Rapido Bike Taxi क्या है, Rapido Meaning in Hindi?

FAQ,s

इलेक्ट्रिक स्कूटर क्या है?

इंजन को चलाने के लिए ईंधन की जरूरत पड़ती है और जिस स्कूटर के इंजन में चलने के लिए ईंधन के रूप में Electric (बिजली) का उपयोग होता है उस स्कूटर को इलेक्ट्रिक स्कूटर कहते है।

सबसे सस्ता इलेक्ट्रिक स्कूटर कौन सा है?

डुकाटी के Market में अपने सबसे सस्ते इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर स्कूटर Pro-I Evo लॉन्च किया है। Pro-I Evo इलेक्ट्रिक स्कूटर का डिजाइन Xiaomi M365 से मिलता जुलता है। डुकाटी के इस इलेक्ट्रिक स्कूटर में 350 वाट का मोटर और 280 Wh की क्षमता का बैटरी पैक दिया गया है।

इलेक्ट्रिक स्कूटर और पेट्रोल स्कूटर में अंतर क्या है?

1- इंजन को चलाने के लिए ईंधन की जरूरत पड़ती है और जिस स्कूटर के इंजन में चलने के लिए ईंधन के रूप में Electric (बिजली) का उपयोग होता है उस स्कूटर को इलेक्ट्रिक स्कूटर कहते है।

2- जिस स्कूटर के इंजन में चलाने के लिए ईंधन के रूप में पेट्रोल का इस्तेमाल किया जाता है ऐसे स्कूटर को पेट्रोल स्कूटर कहते हैं।

निष्कर्ष-

उम्मीद करता हूं कि यह लेख इलेक्ट्रिक वाहन के फायदे और नुकसान क्या है? पसंद आया होगा, में हमेशा पूरा प्रयास और काफी रिसर्च करके लेख के द्वारा सभी पाठको तक जानकारी पहुंचता हूं ताकि किसी भी यूजर्स को जो हमारी हिंदीनोट वेबसाइट पर जिस जानकारी के लिए आया है उसे वो जानकारी मिले और उससे संतुष्ट होकर जाए ताकि दूसरी वेबसाइट पर जाकर सर्च न करना पड़े।

ई – स्कूटर vs पेट्रोल स्कूटर में बेहतर कौन सा है, लेख से आपको जरूर सीखने को मिला होगा, अगर फिर भी आपके दिमाग कोई कन्फ्यूजन हो तो इस आर्टिकल (इलेक्ट्रिक स्कूटर (E – Scooter) के फायदे और नुकसान) के सबसे नीचे एक कमेंट बॉक्स होगा उसमें आर्टिकल से संबंधित प्रश्न और अपना email डालकर कमेंट करे, आपकी पूरी मदद की जाएगी,

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x